'एक पेड़ मां के नाम' अभियान शुरू, मंत्री कैलाश विजयवर्गीय बोले- इंदौर पौधारोपण के मामले में विश्व रिकॉर्ड बनाएगा

Jul 6, 2024 - 20:58
 0  68
'एक पेड़ मां के नाम' अभियान शुरू, मंत्री कैलाश विजयवर्गीय बोले- इंदौर पौधारोपण के मामले में विश्व रिकॉर्ड बनाएगा

इंदौर। प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में 'एक पेड़ मां के नाम' अभियान का आगाज हो चुका है, जहां पितृरेश्वर हनुमान धाम पर साधु-संतों की मौजूदगी में उप मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल और कैबिनेट मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, महापौर पुष्यमित्र भार्गव द्वारा वृक्षारोपण अभियान का शुभारंभ किया गया।

इस अवसर पर क्षेत्र वाल्मिकी धाम पीठाधीश्वर एवं राज्यसभा सदस्य बाल योगी उमेश नाथ महाराज, महामंडलेश्वर अरुण स्वामी महाराज, मां कनकेश्वरी देवी, पद्मश्री जनक पल्टा, विधायक रमेश मेंदोला तथा बड़ी संख्या में संत समाज एवं नागरिकगण उपस्थित थे। इस अवसर पर अतिथियों द्वारा पितृ पर्वत पर वृक्षारोपण किया गया।

पितृ पर्वत पर 11 हजार पेड़ लगाए गए। इस मौके पर उप मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल ने कहा कि प्रदेश में वृहद स्तर के वृक्षारोपण अभियान में इंदौर शहर भी 51 लाख से अधिक वृक्षारोपण करने जा रहा है। विश्व व्यापी समस्या ग्लोबल वार्मिंग है और इस समस्या के निपटान के लिए आवश्यक है कि हम अधिक से अधिक पौधे लगाएं।

इसी क्रम में मध्य प्रदेश के सभी जिलों, नगर, गांव में वृक्षारोपण अभियान चलाया जा रहा। उप मुख्यमंत्री शुक्ल ने कहा कि वृक्ष बैठे हुए संत होते हैं और संत चलते हुए वृक्ष होते हैं। आज बहुत ही अच्छा संयोग है कि संतजनों की उपस्थिति में धरती मां के शृंगार में वृक्षारोपण अभियान शुरू हुआ है, इंदौर ने इसे जन आंदोलन बनाया है।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि पहले गर्मी के दिनों में भी सुबह हाफ स्वेटर पहनने लायक ठंड रहती थी। अब मालवा का तापमान 45 डिग्री तक जाने लगा है। पहले कभी ऐसा नहीं हुआ। जब तेज गर्मी पड़ रही थी, तब  मुझे पितृ पर्वत पर बैठे बैठे एक करोड़ पेड़ लगाने का विचार आया। हनुमान जी ने मन में कहा, यह कुछ ज्यादा हो जाएगा। इसके बाद मैने 51 लाख पेड़ लगाने का संकल्प लिया। 

मंत्री विजयवर्गीय ने कहा कि इंदौर में अब तक वृक्षारोपण के लिए 48 लाख गड्ढे हो चुके हैं। इंदौर इस बार पौधारोपण के मामले में विश्व रिकॉर्ड बनाएगा।इंदौर का तापमान पांच डिग्री कम करना है, इसलिए हर साल 51 लाख पौधे लगाए जाएंगे, ताकि शहर हरा भरा रहे। मेयर पुष्य मित्र भार्गव ने कहा कि इंदौर के लोग जनभागदारी में आगे है। जैसे इंदौर को शहरवासी साफ रखते है, वैसे ही हरा भरा भी बनाए। हमें आने वाली पीढ़ी के बारे में सोचना चाहिए। उन्हें शुद्ध आबोहवा मिले, इसलिए हरियाली हर हाल में बढ़ाना होगी। इससे शहर का भूजल स्तर भी बढ़ेगा। अभियान के दौरान संतों से पितृ पर्वत पर पेड़ लगाए गए। 

महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने कहा कि हमारा सभी का सौभाग्य है कि आज पितृ पर्वत पर इतने संत महात्माओं ने चरण रखे हैं। उन्होंने कहा कि संकल्प से ही सिद्धि प्राप्त होती है और यह संकल्प का परिणाम है कि इस बंजर भूमि पर 3 लाख से अधिक पौधे जीवित है। इसी संकल्प को आगे बढ़ाते हुए इंदौर को पर्यावरण संरक्षण में नंबर वन बनाने के उद्देश्य से इंदौर में 51 लाख पौधों का रोपण किया जाएगा।

महापौर भार्गव ने कहा कि हम आने वाले पीढ़ी को कांक्रीट की जगह हरियाली दें और इंदौर के भूजल स्तर को बढ़ाने के लिए अधिक से अधिक पेड़ लगाए और इस अभियान को सफल बनाने में सहयोग करें।

14 जुलाई को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह इंदौर आएंगे। उनकी मौजूदगी में एक दिन में 11 लाख पेड़ रेवती रेंज की टेकरी पर लगाए जाएंगे। रविवार से शहरभर में पौधरोपण शुरू होगा। इंदौर विकास प्राधिकरण ने भी अलग अलग स्कीमों में पौधे लगाए।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow