Dec 03 2022 / 5:40 PM

हम राजनीति के लिए कभी अपनी विचारधारा का त्याग नहीं करेंगे: ममता

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि राजनीति ने लिए कभी भी विचारधारा का त्याग नहीं किया जायेगा क्योंकि यही शक्ति है। तृणमूल 1992 से प्रति वर्ष आज के दिन सनहाटी दिवस मनाती है।

ममता ने कहा, ‘‘हम राजनीति के लिए कभी भी अपनी विचारधारा का त्याग नहीं करेंगे। हमारी विचारधारा ही हमारी शक्ति है। तृणमूल की स्थापना जनवरी 1998 में की गयी थी और तब से लेकर आजतक हमने पार्टी में जनता विरोधी, संविधान विरोधी और भारत विरोधी लोगों को अपनी पार्टी में शामिल नहीं किया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम कभी 1992 के दंगों को नहीं भूलेंगे। इन दंगों ने पूरे देश को तबाह कर दिया। हमने तब प्रतिज्ञा ली थी कि हम देश में सांप्रदायिक सौहार्द कायम रखने के लिए छह दिसंबर को सनहाटी दिवस मनाएंगे। हमने कभी दंगों की राजनीति का समर्थन नहीं किया। हम लोगों के प्रति जिम्मेदार हैं। हमारे पास जमीनी स्तर के लोगों का समर्थन हासिल है।’’

Chhattisgarh