Dec 06 2022 / 7:54 PM

CAA को लेकर यूपी में हिंसक प्रदर्शन, 6 की मौत, पुलिस थाने और चौकियां फूंकी

लखनऊ। नागरिकता कानून पर दूसरे दिन भी उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में जमकर बवाल हुआ। उत्तर प्रदेश में फायरिंग के दौरान 6 लोगों की मौत हो गई। बिजनौर में 2 मौतें, फिरोजाबाद, संभल और मेरठ में एक-एक की मौत हुई। लखनऊ में गुरुवार को घायल हुए युवक की शुक्रवार को इलाज के दौरान मौत हुई। यहां कई जिलों में पुलिस थाने और चौकियां फूंकी गईं। झड़प और पथराव के दौरान 50 लोग घायल हुए हैं।

उधर, कानपुर के अलग-अलग हिस्सों में उपद्रवियों द्वारा पथराव किया गया। स्थितियों पर नियंत्रण करने के लिए पुलिस को उपद्रवियों पर लाठीचार्ज करना पड़ा। बिजनौर में भी एक पुलिसकर्मी को गोली लगी है, जिसे कि इलाज के लिए रिफर कर दिया गया है। इसकी पुष्टि बिजनौर के अडिशनल एसपी सिटी लक्ष्मी निवास मिश्रा ने की। वहीं, गाजियाबाद डीएम की ओर से जारी आदेश के अनुसार, कल (शनिवार) सुबह 10 बजे तक इंटरनेट बंद रहेगा। सभी स्कूल भी बंद रहेंगे।

कानपुर स्थित हलीम मुस्लिम कॉलेज से यतीम खाने की तरफ मुंह पर कपड़ा बांधे हुए भीड़ पहुंची। नमाज के बाद युवकों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। तकरीबन 1 लाख की भीड़ ने पूरे शहर में तांडव शुरू कर दिया। कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई है। इसके साथ ही ये उपद्रवी फूलबाग की तरफ बढ़ रहे हैं। कानपुर के ही ग्वालटोली में 100-150 लड़कों ने भी प्रदर्शन किया है।

कानपुर के बाबूपुरवा के बगाही और मछरिया क्षेत्र से भी प्रदर्शन और आगजनी की खबरें सामने आईं। यहां प्रदर्शन के दौरान 13 लोग घायल हुए, जिनमें से 9 लोगों को गोली लगी है। घायलों को इलाज के लिए अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। कानपुर में प्रदर्शनकारियों की वजह से जाम की स्थिति पैदा हो गई। बढ़ते बवाल को देखते हुए डीआईजी पीएसी को कानपुर भेज दिया गया है। स्थितियों पर काबू पाने के लिए एक प्लाटून पीएसी को तैनात किया गया है।

Chhattisgarh