Dec 03 2022 / 5:51 PM

गोडसे को देशभक्त बताने पर साध्वी प्रज्ञा की सफाई, कहा- बस, मैंने उधम सिंह का अपमान नहीं सहा

नई दिल्ली। लोकसभा में बुधवार को महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को ‘देशभक्त’ बताने वाली टिप्पणी पर बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर की सफाई दी है। प्रज्ञा ठाकुर ने ट्वीट करते हुए कहा कि यह झूठ है, मैंने केवल उधम सिंह का अपमान नहीं सहा। उन्होंने लिखा है, ‘कभी-कभी झूठ का बवंडर इतना गहरा होता है कि दिन में भी रात लगने लगती है लेकिन सूर्य अपना प्रकाश नहीं खोता। पलभर के बवंडर में लोग भ्रमित न हों सूर्य का प्रकाश स्थाई है। सत्य यही है कि कल मैंने उधम सिंह जी का अपमान नहीं सहा बस।’

वहीं प्रज्ञा ठाकुर की इस टिप्पणी पर बीजेपी ने भी कार्रवाई की है। केंद्र सरकार ने उनका नाम रक्षा मामलों की समिति से हटा दिया है।नाथूराम गोडसे पर सांसद प्रज्ञा ठाकुर की टिप्पणी की बीजेपी ने निंदा की है। बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा कि भाजपा, लोकसभा सांसद प्रज्ञा ठाकुर की टिप्पणी की निंदा करती है, पार्टी ऐसे बयानों का कभी समर्थन नहीं करती। नड्डा ने कहा, प्रज्ञा ठाकुर संसद सत्र के दौरान बीजेपी संसदीय दल की बैठक में हिस्सा नहीं ले सकेंगी। बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने प्रज्ञा ठाकुर को रक्षा मामलों की परामर्श समिति से हटाये जाने की सिफारिश की।

वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि साध्‍वी ने जो कहा वह दरअसल बीजेपी और आरएसएस के दिल की बात है। मैं इसमें क्‍या कह सकता हूं? यह किसी से छिपा नहीं है। मैं उन पर एक्‍शन की मांग कर अपने समय को खराब नहीं करना चाहता। इसके साथ ही राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, कि आतंकी प्रज्ञा ने आतंकी गोडसे को देशभक्‍त कहा, यह भारत के संसदीय इतिहास का काला दिन है।

इस बीच साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति से निकाल दिया है। इसके साथ ही साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को सत्र के दौरान होने वाले बीजेपी संसदीय दल की बैठकों में भी नहीं आने का फरमान सुनाया गया है। वहीं साध्वी प्रज्ञा के बयान पर लोकसभा में जमकर हंगामा हुआ। विपक्ष ने सरकार को साध्वी प्रज्ञा के बयान पर घेरा तो वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने साध्वी प्रज्ञा के बयान को निंदनीय बताया।

Chhattisgarh