Nov 27 2022 / 8:25 AM

मैं दो या तीन मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं करता हूं तो टीम के लिए बोझ बन जाता हूं: क्रिस गेल

नई दिल्ली। क्रिस गेल जब फॉर्म में होते हैं तो फ्रेंचाइजी क्रिकेट में उनकी काफी मांग रहती है, लेकिन वेस्टइंडीज के इस विस्फोटक बल्लेबाज का मानना है कि जब भी वह इस तरह की टी-20 लीग में नाकाम रहते हैं, तो वह अपनी टीमों के लिए बोझ बन जाते हैं।

इस 40 वर्षीय सलामी बल्लेबाज ने एमएसएल में जोजी स्टार्स के लिए छह पारियों में केवल 101 रन बनाए। गेल ने कहा, जैसे ही मैं दो या तीन मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं करता हूं, वैसे ही क्रिस गेल टीम के लिए बोझ बन जाता है।

उन्होंने कहा, मैं केवल इस टीम की ही बात नहीं कर रहा हूं। फ्रेंचाइजी क्रिकेट खेलते हुए पिछले कई वर्षों में मैंने यह आकलन किया है। अगर मैं दो, तीन या चार पारियों में रन नहीं बनाता हूं तो क्रिस गेल बोझ बन जाता है। ऐसा लगता है कि एक खास व्यक्ति टीम के लिए बोझ है।

दूसरी तरफ, क्रिस गेल ने साबित कर दिया कि उन्हें हमेशा भीड़ का मनोरंजन करने के लिए बल्ले की जरूरत नहीं होती है, क्योंकि वेस्टइंडीज के टी-20 के दिग्गज ने एमएसएल के एक मुकाबले के दौरान एलबीडब्ल्यू अपील खारिज किए जाने के बाद रोने का नाटक किया। उनका यह वीडियो वायरल हो गया है।

शुक्रवार को क्रिस गेल की टीम जोजी स्टार्स को पर्ल रॉक्स ने चार विकेट से मात दी। इस मैच में वह बल्ले से एक ही रन बना पाए, लेकिन उन्होंने मैच के अपने एकमात्र ओवर में किफायती गेंदबाजी करते हुए पांच रन ही दिए। उन्होंने पर्ल रॉक्स की पारी में पहला ओवर फेंका था।

गेल के उस ओवर की अंतिम गेंद सलामी बल्लेबाज हेनरी डेविड के पैड पर लगी, जिस पर क्रिस गेल ने अपील की। जब अंपायर ने उनकी इस अपील का समर्थन नहीं किया तो गेल ने रोने का नाटक किया, जिसके बाद अंपायर भी अपनी हंसी रोक नहीं पाए।

Chhattisgarh