Dec 06 2022 / 6:44 PM

जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने सेनाध्यक्ष के रूप में संभाला पदभार

नई दिल्ली। लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने मंगलवार को 28वें सेना प्रमुख का पदभार संभाला। सेना प्रमुख के तौर पर तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा करने के बाद जनरल बिपिन रावत मंगलवार को सेवानिवृत्त हो गए। उनकी जगह जनरल मनोज मुकुंद नरवाने ने ली है। नए सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल नरवणे इससे पहले 1 सितंबर 2019 को उप-थलसेनाध्यक्ष का पदभार ग्रहण किया था। वे सेना की ईस्टर्न कमांड के प्रमुख भी रहे।

37 साल की सेवा में नरवणे जम्मू-कश्मीर और पूर्वोत्तर में तैनात रह चुके हैं। वे कश्मीर में राष्ट्रीय राइफल्स बटालियन और पूर्वी मोर्चे पर इन्फैन्टियर ब्रिगेड की कमान संभाल चुके हैं। नेशनल डिफेंस एकेडमी और इंडियन मिलिट्री एकेडमी के छात्र रहे नरवणे को सेना मेडल, विशिष्ट सेवा मेडल और अति विशिष्ट सेवा मेडल से अलंकृत किया जा चुका है। नरवणे ही वे आर्मी कमांडर हैं, जिन्होंने डोकलाम विवाद के दौरान चीन को हद बताई थी।

Chhattisgarh