Dec 06 2022 / 7:47 PM

दिल्ली: जामिया हिंसा में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, 10 गिरफ्तार, कोई छात्र नहीं

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन के दौरान दिल्ली के जामिया नगर इलाके में हिंसा, आगजनी और तोड़फोड़ के मामले में पुलिस ने 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए सभी आरोपी आपराधिक पृष्ठभूमि के हैं। मामले में किसी भी छात्र को गिरफ्तार नहीं किया गया है। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार इनकी गिरफ्तारी की है।

बता दें कि साउथ दिल्ली के न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में हुई हिंसा के सिलसिले में दिल्ली पुलिस ने 2 FIR दर्ज कर दी थी। रविवार को संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में अराजक तत्वों ने जमकर तांडव मचाया था। उपद्रवियों ने 3 बसों और कुछ अन्य गाड़ियों को फूंक दिया।

इतना ही नहीं, आग बुझाने आई दमकल की 4 गाड़ियों में से एक को भी पूरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया था। इसके अलावा कई अन्य गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई थी। इस हिंसा में पुलिस के 10 और दमकल के 2 कर्मचारी भी जख्मी हुए थे।

सोमवार को दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया था कि प्रदर्शन में स्थानीय लोगों के शामिल होने से हिंसा फैली। उपद्रवियों तक पहुंचने के लिए पुलिस ने सीसीटीवी और हिंसा के वायरल फुटेज खंगाले। माना जा रहा है कि 10 स्थानीय लोगों की गिरफ्तारी इसी के आधार पर की गई है।

Chhattisgarh