Nov 29 2022 / 5:38 PM

कांग्रेस सिर्फ मुसलमानों से पूछ कर सरकार बनाती है: संबित पात्रा

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बुधवार को कांग्रेस पर आरोप लगाया कि वह पूरी तरह से मुस्लिम परस्त पार्टी बन गयी है और उसे अपना नाम भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की बजाय मुस्लिम लीग कांग्रेस रख लेना चाहिए। भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने यहां संवाददाताओं से कहा कि कुछ राजनीतिक पार्टियां नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) को लेकर देश में भ्रम का माहौल बना रही हैं। इसमें खासतौर पर कांग्रेस पार्टी है।

उन्होंने कहा कि इस विरोध के बहाने उन्होंने हिन्दुओं को गाली दी है। दो दिन पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री एवं वर्तमान सरकार में मंत्री अशोक चव्हाण ने एक सभा में कहा कि हमने मुसलमान भाइयों के कहने पर महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ सरकार बनायी है। मुस्लिमों का कहना था कि भाजपा हमारी सबसे बड़ी दुश्मन है, इसलिए हमने शिवसेना के साथ सरकार बनायी। उन्होंने कहा कि चव्हाण के बयान का एक ही निचोड़ है कि कांग्रेस मुसलमानों से पूछकर ही सरकार बनाती है, किसी और धर्म के लोगों को ध्यान में रखकर नहीं।

उन्होंने सवाल किया, क्या वे हिन्दुओं एवं अन्य समुदायों की चिंता नहीं करते डॉ. पात्रा ने कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता जितेन्द्र आव्हाड ने कहा कि मुस्लिम कह सकते हैं कि उनके पुरखे यहां की जमीन में दफन हैं लेकिन हिन्दू नहीं कह सकते कि उनके पुरखों का अंतिम संस्कार कहां हुआ। आखिर ये किस प्रकार की राजनीति है। इसी प्रकार से मंगलवार को एआईएमआईएम के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मुसलमानों ने 800 वर्ष तक इस मुल्क में हुक्मरानी और जांबाजी की है।

उन्होंने कहा, हमारे पुरखों ने इस मुल्क को कुतुबमीनार, चार मीनार, जामा मस्जिद दिया है। लाल किला भी उन्होंने ही बनाया, तुम्हारे पूर्वजों ने क्या बनाया है? आखिर ये सवाल किससे था? भाजपा प्रवक्ता ने ऐसी भाषा शैली की भर्त्सना करते हुए कहा कि हमारे दादा-परदादा ने इसे देश को सहिष्णु, विराट, क्षमतावान, गरिमावान बनाया और कांग्रेस एवं उनके सहयोगी ऐसी भाषा का उपयोग करते हैं। डॉ. पात्रा ने कहा कि पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के छह लोगों को कर्नाटक में गिरफ्तार किया गया है।

यह वही संस्था है जिसने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं भाजपा के बड़े नेताओं की हत्या की साजिश रची थी। इस संस्था को पहले सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी का समर्थन मिलता रहा है। उन्होंने कांग्रेस नेताओं पर हिन्दू विरोधी राजनीति का आरोप लगाते हुए कहा कि 17 मई 2017 युवक कांग्रेस के एक नेता केरल में गाय की हत्या करते हैं और सार्वजनिक रूप से गौ मांस भक्षण करते हैं। 2016-17 में श्री राहुल गांधी जेएनयू जाते हैं और वहां देश विरोधी नारे लगते हैं।

16 मई 2017 को कपिल सिब्बल उच्चतम न्यायालय में भगवान राम की तुलना तीन तलाक और हलाला से करते हैं। 11 जुलाई 2018 को राहुल गांधी ने साफ कहा कि हां कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी है। नौ जुलाई 2018 को कांग्रेस के जेड ए खान कहते हैं कि देश के हर जिले में शरिया अदालत होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वर्ष 2008 में समझौता एक्सप्रेस विस्फोट में कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने हिंदू आंतकवाद पर उंगली उठाई। 2006 में प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने कहा कि देश के संसाधनों पर पहला हक मुसलमानों का है।

2004 में पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांची कामकोटि के शंकराचार्य को गिरफ्तार कराया। उन्होंने कहा कि इन सब बातों से साफ हो गया है कि कांग्रेस पार्टी केवल मुस्लिमों की बात करती है और उनके ध्रुवीकरण के लिए प्रयासरत है इसलिए उस पार्टी का नाम भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की बजाय मुस्लिम लीग कांग्रेस कर दिया जाना चाहिए।

Chhattisgarh