Nov 27 2022 / 8:05 PM

अनुसूचित जाति के सम्मान समारोह में सीएम भूपेश बघेल का किया गया सम्मान

रायपुर। अनुसूचित जाति के सम्मान समारोह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बड़ी घोषणा की हैं, उन्होंने वर्ष 2021 जनगणना के आंकड़े सामने आने के महीनेभर के भीतर जनसंख्या के हिसाब से समाज को आरक्षण देंगे, उन्होंने 2021 जनगणना में अनुसूचित जाति की जनसंख्या प्रदेश में बढ़ने का भरोसा जताया। प्रदेश में 12 फीसदी से बढ़ाकर 13 फीसदी आरक्षण किए जाने पर रविवार को अनुसूचित जाति की ओर से रायपुर के इंडोर स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का सम्मान किया गया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि गांधी जी ने सत्य और अहिंसा के बदौलत देश को आजाद कराया। बाबा भीमराव अंबेडकर ने सामाजिक न्याय दिलाने का काम किया। आज छत्तीसगढ़ का 82 प्रतिशत आरक्षण देश में सबसे ज्यादा है, कोई आंदोलन नहीं क्योंकि ये बाबा घासीदास का जन्मभूमि है, यहां भाईचारे और प्रेम से करते हैं। मैंने केवल संविधान में जो व्यवस्था थी वही किया, कोई अहसान नहीं किया, न्याय केवल आरक्षण में नहीं, न्याय हर किसी के साथ होना चहिए।

भूपेश बघेल ने पूर्ववर्ती रमन सिंह की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने अनुसूचित जाति के लिए आरक्षण 16 फीसदी से घटाकर 12 फीसदी किया, जबकि 2011 जनगणना के आंकड़े सामने आ चुके थे। उन्होंने यह जानबूझकर किया क्योंकि वोट बटोरा जा सके। समाज के हर वर्ग को न्याय मिलना चाहिए। वर्ष 2021 जनगणना के आंकड़े आते ही महीनेभर के भीतर जनसंख्या के आधार पर आरक्षण का लाभ दिया जाएगा, लेकिन केंद्र में बैठी सरकार यह काम नहीं कर रही हैं। जनसंख्या के आधार पर हर तबके को आरक्षण मिले इसके लिए हम प्रस्ताव बनाकर भेजेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज देश में मंदी का दौर है, लेकिन छत्तीसगढ़ में इसका कोई असर नहीं है। गांव-गांव में मोटरसाइकिल चल रही है। बेटियों के लिए लोग सोने-चांदी के गहने खरीद रहे हैं, क्योंकि किसानों के पास पैसा है, इसका लाभ उनको मिल रहा हैं। उन्होंने कहा कहा कि केवल आरक्षण देने से प्रदेश मजबूत नहीं होगा, इसके लिए सभी क्षेत्रों में विकास होना चाहिए।

उन्होंने एनएमडीसी का जिक्र करते हुए कहा कि खदान दंतेवाड़ा में है, और परीक्षा हैदराबाद में हो रही हैं। भिलाई स्टील प्लांट यहां है और परीक्षा राउरकेला और नागपुर में हो रहा हैं, अब यह नहीं होगा। यहां जितने भी उद्योग खुलेंगे उनमें रोजगार का पहला अधिकारी छत्तीसगढ़ के युवाओं का हैं। कार्यक्रम में मंत्री शिव डहरिया, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के अलावा बड़ी संख्या में अनुसूचित जाति के सदस्य और कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।

Chhattisgarh