Dec 03 2022 / 5:08 PM

चीन ने मनाई कम्युनिस्ट शासन की 70वीं सालगिरह, किया सबसे आधुनिक हथियारों का प्रदर्शन

पेइचिंग। चीन ने कम्युनिस्ट शासन के 70 साल पूरे होने पर मंगलवार को विशाल सैन्य परेड के साथ-साथ अपने घातक हथियारों, मिसाइलों का प्रदर्शन किया। चीन के इस परेड को दुनिया के सामने शक्ति प्रदर्शन के तौर पर देखा जा रहा है। खासतौर पर उसकी मिसाइलें दुनिया को हैरान कर रही है।

चीन ने जिन मिसाइलों का प्रदर्शन किया, उनमें इंटरकॉन्टिनेंटल मिसाइलें डोंगफेंग-41 और डोंगफेंग-17 भी शामिल थीं, जो 15 हजार किलोमीटर दूरी तक मार कर सकती हैं। डीएफ-41 दुनिया की सबसे दूरी तक मार करने वाली मिसाइल मानी जाती है। चीन ने पहली बार इस मिसाल को परेड में दिखाया।

चीन में कम्युनिस्‍ट शासन की 70वीं वर्षगांठ के मौके पर जो सैन्‍य परेड हुई, उसमें DF-41 मिसाइल भी शामिल किया गया, जो किसी अमेरिकी शहर पर 30 मिनट में निशाना साध सकती है। यह अब तक की दुनिया की सबसे शक्तिशाली मिसाइल है, जो कई मायनों में खास है।

DF-41 मिसाइल की मारक क्षमता लगभग 9,320 मील (लगभग 15,000 किलोमीटर) है, जो अब तक धरती पर मौजूद किसी भी मिसाइल से अधिक है। यह मिसाइल अपने साथ 10 स्‍वतंत्र लक्षित परमाणु हथियार लेकर जा सकती है और किसी अमेरिकी शहर को 30 मिनट के भीतर अपनी जद में ले सकती है।
चीन के सैन्‍य परेड में कई आधुनिक हथियारों का प्रदर्शन किया गया, जिसमें DF-41 मिसाइल का पहली बार प्रदर्शन किया गया। सैन्‍य परेड में जिस तरह के हथियारों का प्रदर्शन किया गया, उसे चीन द्वारा शक्ति प्रदर्शन के तौर पर देखा जा रहा है। चीन की सेना जहां दुनिया की सबसे बड़ी थल सेना है, वहीं यहां की वायुसेना दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी एयरफोर्स है।

चीन ने इस दौरान अंडर वाटर व्‍हीकल्‍स के साथ-साथ नए स्‍टील्‍थ DR-8 ड्रोन का भी प्रदर्शन किया, जिसके बारे में माना जाता है कि वह ध्‍वनि की रफ्तार से 5 गुना अधिक तेजी के साथ उड़ान भर सकता है। कार्यक्रम को लेकर लोगों में जबरदस्‍त उत्‍साह देखा गया।

Chhattisgarh