Nov 29 2022 / 4:22 PM

यूपी में किसानों का कर्ज माफ करने के नाम पर धोखा हुआ : सीएम भूपेश बघेल

प्रतापगढ़। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि खुद को देश का चौकीदार कहने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के किसानों को खेत का चौकीदार बना दिया है, जो रातों में जागकर छुट्टा जानवरों से अपने खेत की सुरक्षा कर रहे हैं। बघेल ने गुरुवार को यह बात आज बाराबंकी और प्रतापगढ़ जिले में 21 अक्टूबर को विधानसभा उपचुनाव की सभाओं में कही।

उन्होंने बाराबंकी के जैदपुर विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी तनुज पुनिया के पक्ष में आयोजित जनसभा में छत्तीसगढ़ सरकार की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, हमने छत्तीसगढ़ में किसानों से जो भी वादा किया था, उसे पूरा किया। लेकिन उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया। उन्होंने कहा कि खुद को देश का चौकीदार कहने वाले प्रधानमंत्री ने किसानों को उनके खेतों का चौकीदार बना दिया। यहां किसान छुट्टा जानवरों से परेशान होकर रातभर जागकर अपने खेतों की रखवाली करते हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा छत्तीसगढ़ में 15 सालों में जो नहीं कर पाई, वह हमने किया है। लेकिन यूपी में किसानों का कर्ज माफ करने के नाम पर उनके साथ धोखा हुआ है। किसानों को उनकी फसलों का सही दाम नहीं मिल रहा। प्रदेश में बिजली के दाम बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि जहां-जहां कांग्रेस की सरकार है। वहां मंदी का कोई असर नहीं है। भाजपा सरकार में बेरोजगारी बढ़ रही है। नौजवानों को देने के लिये बीजेपी सरकार के पास पैसे नहीं हैं।

बघेल ने प्रतापगढ जिले के कांधरपुर बाजार में आयोजित जनसभा में सदर विधान सभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी डाक्टर नीरज त्रिपाठी के लिए वोट मांगा और उन्हें विजयी बनाने की लोगों से अपील की। उन्होंने कहा कि सरकार ने कश्मीर से धारा 370 को हटाकर देश के साथ कोई एहसान नहीं किया है। धारा 370 को हटाना तो भारतीय जनता पार्टी के एजेंडे में था।

उन्होंने कहा कि भाजपा गाय के नाम पर वोट मांगती है। उत्तर प्रदेश में गायों की हालत बहुत खराब है, किसानों से अच्छी हालत छत्तीस गड़ के किसानों की है। उन्होंने कहाक हमारे यहां धान 25 रुपए किलो में खरीदा जाता है, उत्तर प्रदेश में समर्थन मूल्य का लाभ किसानों को नहीं मिलता है सारा लाभ बिचौलियों को मिल रहा है।

उन्होंने बताया कि हमारे प्रदेश में गौशालाएं बेहतर है और चारे की व्यवस्था की गई है, यहां चारे की व्यवस्था नहीं है और गाय दुर्बल है और मर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार आम आदमी की जेब से पैसा निकालकर पूंजीपतियों को दे रही है।

Chhattisgarh