Mar 02 2024 / 11:14 AM

सेना प्रमुख के पद से रिटायर हुए बिपिन रावत

नई दिल्ली। तीन साल के कार्यकाल के बाद जनरल बिपिन रावत आज सेना प्रमुख के पद से रिटायर हो गए हैं। बिपिन रावत ने आज अपने कार्यकाल के आखिरी दिन दिल्ली में वॉर मेमोरियल जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद उनको साउथ ब्लॉक में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

गार्ड ऑफ ऑनर के बाद मीडिया से बात करते हुए जनरल रावत ने कहा, मैं कहना चाहता हूं कि सीडीएस बस एक ओहदा है। वह अकेला काम नहीं कर सकता। टीम वर्क ही सफलता दिला सकती है। अपने विदाई संदेश में जनरल रावत ने सभी सैन्यकर्मियों और उनके परिवारवालों का शुक्रिया किया।

जनरल रावत ने कहा, मैं उन भारतीय सैनिकों को शुक्रिया कहना चाहता हूं जो इस चुनौतीपूर्ण परिस्थिति में भी अपना काम कर रहे हैं। जनरल रावत से जब ये पूछा गया कि क्या सेना देश के सामने खड़ी चुनौतियों का सामना करने के लिए अब ज्यादा अच्छे से तैयार है, उन्होंने कहा, हां हम ज्यादा बेहतर तरीके से तैयार हैं।

इससे पहले जनरल रावत ने दिल्ली में नेशनल वार मेमेरियल में पत्रकारों से कहा, आर्मी स्टाफ के चीफ के पद पर कई जिम्मेदारियां होंगी। अभी तक मैं केवल आर्मी स्टाफ के चीफ के तौर पर अपने काम पर ध्यान देता था। अब मेरे पास नया पद है। मैं बैठूंगा और भविष्य के लिए नई योजना तैयार करूंगा। मैं अपनी नई भूमिका पूरी तरह से निभाने की कोशिश करूंगा।

Chhattisgarh